Powered by Blogger.

अमेरिका को साडी से परेशानी-स्टडी लेवल जरूरी या ड्रेसकोड?-ब्लाग चौपाल- राजकुमार ग्वालानी

>> Thursday, December 9, 2010

सभी को नमस्कार करता है आपका राज
 
 
अपने देश के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का अपमान करने का काम छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के कांग्रेसियों ने किया। अपनी नेता सोनिया गांधी के जन्मदिन के जश्न में ये कांग्रेसी नेता इस कदर मशगुल हो गए कि वे ये भी भ...
 
हर बार एयरपोर्ट पर भारतियों का तलाशी के नाम पर अपमान करने का आरोपी अमेरिका को अब साडी से आपत्ति हो गयी हे , हमारे देश की राजदूत मीरा शंकर को साडी पहने एयरपोर्ट के सुरक्षा कर्मियों ने किया देखा बस उन्हें अल...
 
अंग्रेजों ने फौज में अनुशासन रखने के लिए ड्रेस कोड का इस्तेमाल किया था, लेकिन यह एक कॉलेज है फौज नहीं। कुछ इसी तर की प्रतिक्रियाएं रहीं नूतन कॉलेज में ड्रेस कोड लागू करने के मामले में शिक्षा से जुड़े लोगो...
 
उत्तर प्रदेश में जिस तरह से काफी समय से भ्रष्टाचार ने अपनी जड़ें मज़बूत की हैं वह पूरे देश के लिए ही चिंता का विषय है आज भी काफी लम्बी न्यायिक प्रक्रिया के बाद जिस तरह से बहुत कम दोषियों को सजा मिल पाती है व...
 
"साहित्यकार शब्दों का जादूगर होता है वह शब्दों की ऐसी रचना करता है कि उसके शब्दों का जादू न सिर्फ वर्तमान वरन भविष्य में भी क्रियाशील रहता है।" आचार्य उदय 
 
*प्रिय ब्लॉगर मित्रो ,* *प्रणाम !* बांकेबिहारी का विहार *( आलेख :- डॉ. अतुल टण्डन )* वृंदावन श्यामा जू और श्रीकुंजविहारी का निज धाम है। यहां राधा-कृष्ण की प्रेमरस-धारा बहती रहती है। मान्यता है कि चिरयुवा 
 
पिछले कई दिनों से हर समाचार माध्यम की मुख्य खबर भ्रष्टाचार से संबंधित है। करीब-करीब तीन हफ्ते होने को आ रहे हैं और पक्ष तथा विपक्ष दोनों अपनी अपनी बातों पर अडिग है संसद ठप्प है। राजा अपना इस्तीफा दे चुक...
 
हैक हुई एक वेबसाइट का बिगड़ा हुआ हुलिया *अपनी वेबसाइट के जरिए अमेरिकी सरकार और उसके विभागों की लाखों पन्नों की गोपनीय जानकारियां सार्वजनिक करके विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज ने पूरी दुनिया में...
 
मिसफ़िट पर स्नेह बटोर रहा हूं. आप भी अपनी आडियंस की जानकारी रखिये इस "Click Me"पर क्लिक कर Current Country Totals From 9 Apr 2010 to 9 Dec 2010 India (IN)7,657 United States (US)624 Canada (CA)213 United Ki...
 
कोई पुरस्कृत क्यु होता है ? कोई जिंदगी भर बिना इनाम के ही .... इनाम वाला भी हो जाता है और कुच्छ लोग लगातार ......... नाम - इनाम बटोरते ही रहते हैं तो कुच्छ नाम येसे भी हैं , जो इनाम की शक्ल ही बदल देते ह...
 
*कल एक मासूम ब्‍लॉगर का अमन का पैगाम गायब हो गया और आज अरूण सी. राय के सरोकार के निराकार होने की सूचना लिखचीत पर मिली है। एक दो जगह टिप्‍पणियों में भी ऐसे ही समाचार मिल रहे हैं। यह दुखद हैं परंतु नियति प...
 
प्रादेशिक फिल्‍मों की कहानियॉं : अनाम ब्‍लॉगर की प्रस्‍तुति
प्रादेशिक भाषाओं के फिल्‍मों का अपना एक अलग महत्‍व होता है, क्‍योंकि प्रादेशिक भाषा के फिल्‍मों में क्षेत्रीय संस्‍कृति व परम्‍पराओं का समावेश होता है इस कारण क्षेत्रीय फिल्‍में क्षेत्रीय जन-मन को लुभाती..

 दिन ढला शाम हुई * *चिड़ियों की कुहक * *वीरान हुई * * * *दिन ने रात को * *गले लगाया * *सांझ का ये नज़ारा * *आम हुई * * * *पेड़ों की झुरमुटों से * *चांदनी की छटा* *दीदार हुई * * * *तारों की अधपकी रोशनी * *आसम...
 
हर -तरफ अन्धेरा है मौत का साया हर जिन्दा दिलों को डस रही है 'मौत ' कोई नयी बात तो नहीं , पहले भी तो लोग मरते थे मगर आज 'मौत ' से इतना डर क्यूँ ? पहले मौत का रखवाला एक यमराज होता था - मगर आज एक...
 
सफ़ेद आकडे का पौधा -* वास्तु दोष, टोने-टोटके, और भाग्यगत समस्याओं से त्रस्त लोगो को अपने घर में श्वेतार्क यानि सफ़ेद आंकडे का पौधा लगाना अच्छा होता है | इस पौधे में सभी प्रकार की समस्या का समाधान कर...
 
 
 अच्छा तो हम चलते हैं
कल फिर मिलेंगे
 
 
 
...
 
 
 
 
 

4 comments:

शिक्षामित्र December 9, 2010 at 7:47 PM  

भाषा,शिक्षा और रोज़गार की पोस्ट लेने के लिए आभार। अन्य लिंक पर भी जाता हूं।

वन्दना December 10, 2010 at 2:16 AM  

बहुत ही बढिया लिंक्स लगाये हैं…………।सुन्दर चौपाल्।

अशोक बजाज December 10, 2010 at 3:32 AM  

बहुत ही बढिया लिंक्स का संकलन ,आभार !!!

Akhtar Khan Akela December 10, 2010 at 8:44 AM  

चोर चोर मोसेरे भाई
देश में सबसे बढ़ा संचार घोटाला हुआ इस पर भाजपा का संसद में शोर शराबा हुआ और जे पी सी की मांग को कोंग्रेस लगातार तानाशाहों की तरह ठुकराती रही ऐसे घोटाले पहले भी हुए हें कोंग्रेस सरकार के पूर्व मंत्री सुखराम के खिलाफ तो इस घोटाले में पकड़े जाने के बाद मुकदमा चला और सजा हुई , भाजपा शासन में ऐसे ही घोटालों में पूर्व मंत्री स्वर्गीय प्रमोद महाजन पर अरबों रूपये के आरोप लगे और फिर उनसे इस्तीफा लिया गया , भाजपा के ही अरुण शोरी को आरोपों के बाद पद से हटाया गया अब ऐ राजा इस भ्रस्ताचार की गिरफ्त में हे लेकिन देश के बढ़े उद्योगपति जो इस घोटाले में शामिल हें उन रतन जी टाटा ने सुप्रीम कोर्ट की हाँ में हाँ मिलाते हुए कहा हे के संचार घोटाले मामले की जाँच वर्ष २००१ से होना चहिये रतन टाटा ने ऐसा क्यूँ बयान दिया हे वेसे तो सब जानते हें लेकिन जब रतन टाटा ने गेर जरूरी तोर पर इस मामले में प्रधानमन्त्री मनमोहन सिघ की वकालत की तो बात साफ़ हो गयी और सब जान गये के रतन टाटा ने यह बयान दिया नहीं बलके उनसे यह बयान किसी दबाव में दिलवाया गया हे ताकि भाजपा जे पी सी की मांग से बेकफुट पर आजाये और कोंग्रेस भाजपा चोर चोर मोसेरे भाई की तरह तू मेरी मत कह में तेरी नहीं कहूँ की तर्ज़ पर खामोश हो जाए । अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

Post a Comment

About This Blog

Blog Archive

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP