Powered by Blogger.

शिक्षा का होगा दुनिया में तभी उजीयारा- जब हर शिक्षक होगा डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन जैसा प्यारा-ब्लाग चौपाल- राजकुमार ग्वालानी

>> Saturday, September 4, 2010


सभी को नमस्कार करता है आपका राज

हर शिक्षक को डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन जैसा प्यारा होना पड़ेगा तभी देश और दुनिया में शिक्षा का उजाला होगा। लेकिन आज के शिक्षकों को शिक्षा का ज्ञान देने के लिए समय ही कहा है। शिक्षा तो आज प्यापार हो गया है, अब शिक्षा से किसी को प्यार नहीं रह गया है....


 
शिक्षक दिवस की बधाई आज शिक्षक दिवस है।भारत में डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के सम्मान में हर साल पांच सितम्बर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है ।वे उच्च पदों पर आने से पहले एक कुशल शिक्षक थे।विश्व भर में शिक्षक दि...
 
आज शिक्षक दिवस है। दिवसों की भीड़ में एक और दिवस.......!* गुरु, शिक्षक, आचार्य, उस्ताद, अध्यापक या टीचर ये सभी शब्द एक ऐसे व्यक्ति को व्याख्यातित करते है जो हमें सिखाता है, ज्ञान देता है। इसी महामानव
 
विद्याएँ लुप्तप्रायः * *छात्र कहाँ जायें* ** * शिक्षा का शोर * *ट्यूशन का जोर* ** * सजी हैं दूकानें * *लोग लगे हैं कमाने-खाने* ** * गुरू गायब * *विद्यालयों की भरमार * *जगत-गुरू के * *अच्छे नही हैं आसार 
 
 
आज शिक्षक दिवस पर आप सभी को शुभकामनाएँ.. सुनियेगा अर्चना चावजी जी के स्वर में शिक्षक दिवस की एक भेंट.. और उसके बाद पवन चन्दन जी के साथ मेरी एक जुगलबंदी.... पहले गीत सुनिए-- अब जुगलबंदी--- चांद और बद...
 
गुरु गुरु ना रहा, शिष्य शिष्य ना रहा, वैदिक परम्पराओ का अब कोई भविष्य ना रहा ! निज-सुखों को त्यागकर, देने को मुझको ज्ञान तुम करते रहे कोशिश भरसक, वो मेरे गुरुजी तुम ही थे, तुम्ही तो थे ! जो ज़िंदगी की राह मे...
 
पिछली बार प्रेम की दुविधा के मसले और मेरी कारगुजारियों पर एक्सपर्ट्स की राय मेरे खिलाफ गई सो इस बार का मुहब्बतनामा ज़रा संभल कर पेश करने की ख्वाहिश है ! बीती बातों से सबक ना लूं तो अहमक कहलाऊंगा , लिहाज़ा...
 
दिलीप कहते हैं- दो मुझे वरदान माँ.....
इस कलम को प्राण जो तूने दिया उपकार तेरा, भाव का विस्तार जो तूने दिया उपकार तेरा... भाव की इस मृत मृदा को उंगलियों का स्पर्श देकर... ये विविध आकार जो तूने दिया उपकार तेरा... आज पर वरदान तुझसे एक माँ मैं चा...
 
हर तरफ जाम लगा है एक रिक्शे में एक मरीज तडफ़ रहा है, रिक्शे वाला बार-बार पुलिस वाले से कहता है कि भाई साहब हमें जाने दे नहीं तो यह मरीज मर जाएगा, लेकिन पुलिस वाला है कि रिक्शे वाले को जाने ही नहीं देता है।...
 
पिछली पोस्ट पर शंकर फुलारा जी ने ब्लॉग संसद में आप सबके समक्ष एक प्रस्ताव रखा था और जो की अक्षरक्ष इस प्रकार था - इस आर्थिक भ्रष्टाचार से, और अर्थव्यवस्था में नकली नोटों की भरमार से निजात पाने को, ब...
 
दोस्तो**,* अनेक बार महसूस होता है कि सैकड़ों अच्छे कामों के बीच एक गलत काम की ओर इंगित करना ‘सठिया’ जाने से अधिक कुछ नहीं है। ‘बीमारी’ को किसी ने अगर ‘ बिमारि’ या ‘बिमारी’ लिख दिया तो कौन-सा पहाड़ टूट पड़ा! ल...
 
 इसने स्‍मोकिंग छोड़ दी है यह दो साल का है आप कब छोड़ेंगे ब्‍लॉगिंग या छोड़ेंगे भी नहीं। ब्‍लॉगिंग और स्‍मोकिंग में से क्‍या छोड़ना चाहिए। 
 
जब अपनी सहेली के साथ ,'बरसात का एक दिन' गुजारा था...और उन यादों को यहाँपोस्ट में बाँटा भी था, तभी उस जैसे ही गुजरे एक रोचक दिन की याद हो आई थी, अगली पोस्ट ही लिखने की सोची थी पर बीच में ये फिल्म उड़ान, रा...
 
जीवन एक कला है । साहित्य उसी का सहज मार्ग है । सम्पूर्ण विश्व सुखी हो , यही सच्चे मानव का प्रयास होना चाहिए। रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' 
 
मुझको कैसा दिन दिखाया ज़िन्दगी ने -------- शाहनवाज़
मुझको कैसा दिन दिखाया ज़िन्दगी ने हर इक को मुझ पर हंसाया ज़िन्दगी ने तुझको खोकर ज़िन्दगी से जब मिले थे मौत की हद तक सताया ज़िन्दगी ने हमको बहुत नाज़ था अपनी हंसी पर खून के आंसू रुलाया ज़िन्दगी ने सुन के...
 
नेपाल में विष्णु भगवान का एक ऐसा मंदिर है जिसमें वहां के राजा को भी प्रवेश की मनाही है। जिसका कारण राजा खुद है। राजधानी काठमांड़ू से नौ कि.मी. दूर भगवान विष्णु की करीब 12 फुट लम्बी लेटी हुई अवस्था में एक म...
 
 
  अच्छा तो हम चलते हैं
कल फिर मिलेंगे
 
 
 
 
 
 
 
 

3 comments:

वन्दना September 4, 2010 at 10:24 PM  

बहुत सुन्दर लिंक्स के साथ खूबसूरत चौपाल्।
शिक्षक दिवस की बधाई।

अनामिका की सदायें ...... September 4, 2010 at 11:15 PM  

बहिया चौपाल सजाई है. शिक्षक दिवस की बधाई.

Post a Comment

About This Blog

Blog Archive

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP