Powered by Blogger.

लव के लिए तो ठीक है, पर अब खेल के लिए कुछ भी करेगा-ब्लाग चौपाल- राजकुमार ग्वालानी

>> Thursday, September 23, 2010

सभी को नमस्कार करता है आपका राज
कपिल देव आज अपने शहर में हैं, और हमें रिपोर्टिंग करने जाना है, समय बहुत कम है, इसलिए आज की चौपाल को हमने सामान्य तरीके से संजाने का काम किया है.... 
आज क्षमा याचना पर्व होने के कारण अनेक मित्रों एवं परिचितों के फोन व एस. एम . एस . आये . सभी ने पर्व की परंपरा का निर्वाह करते हुवे तरह तरह के मैसेज भेजे . एक मित्र का मैसेज है------ जाने में अनजानें में ...
बच्चों को टेनिस की अच्छी सुविधाएं दिलाने टांक परिवार अहमदाबाद में बस गया* अखिल भारतीय लॉन टेनिस में खेल रहीं सबसे कम उम्र की खिलाड़ी निशिका टांक सबके आकर्षण का केन्द्र बनी हुई हैं। निशिका के साथ उनकी बह...
यही केवल कृष्ण है-मासूम * मेरा फ़ेस बुक पर जाना कम ही होता है ब्लॉग से ही अवकाश नहीं मिलता। कभी जब मन करता है तो फ़ेस बुक पर भी चला जाता हूँ अपडेट करने के लिए। नयी फ़्रेंड रिक्वेस्ट या मित्रों के मैसेज ...
 अमेरिका घूम आये और डिज़नीलैंड नहीं देखा तो समझिये आपकी यात्रा अधूरी ही रह गयी! सपनों और सुनहरी कल्पनाओं का संसार डिजनीलैंड बहुत ही आकर्षक और खूबसूरत स्थान है ! यहाँ दिन रात लोगों का मेला सा लगा रहता है और ब...
30 अगस्‍त, 2010 को हिन्‍दुस्‍तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के दिल्‍ली समन्‍वय कार्यालय तथा एलपीजी एसबीयू-उत्‍तरी अंचल ने मथुरा में दो दिवसीय हिन्‍दी कार्यशाला का शुभारंभ किया। कार्यालयीन कार्य में हि...
निर्णय जो भी कोर्ट का मिल सब करें प्रणाम। खुदा तभी मिल पायेंगे और मिलेंगे राम।। मंदिर-मस्जिद नाम पर कितने हुए अधर्म। लोग समझ क्यों न सके असल धर्म का मर्म।। हुआ अयोध्या नाम पर धन-जन का नुकसान। रोटी पहले या ...
मेरी पिछली पोस्ट सबने बड़े ध्यान से पढ़ी. और काफी मनन करके अपने विचार रखे.सबका शुक्रिया. टिप्पणियों में भी देखा और आपसी चर्चा में भी कई बार लोग कह देते हैं , 'बहू कभी बेटी नहीं बन सकती.' जैसे इस अवधारणा ने...
भगवान् का शुक्रिया अदा कीजिये कि "कॉमन वेल्थ" के नाम पर आज सुबह से अभी तक भ्रष्टों द्वारा बिछाई गई देश के करदाता के खून पसीने की रकम का कोई हिस्सा सरसरी तौर पर टूटकर या ढह कर बेकार नहीं गया। वो कह रहे है क...
मैं दरिया हूँ ना बाँधो मुझको बहने दो अपने किनारों से लगते - लगते मत तानो बंदिशों के बाँध मत बाँधो पंखों की परवाज़ को मत लगाओ मेरे आसमानों पर हवाओं के पहरे एक बार उड़ान भरने तो दो एक बार बंदिशें त...
लोगों का राम-राम करते-करते और अल्लाह-अल्लाह करते हुए आज का दिन निकल गया। कल 24 की चिन्ता सभी को खाये जा रही थी, हालातों की बिगड़ने वाली सम्भावना को देखते हुए राशन को भी लोगों द्वारा जमा किया जाने लगा था।...
नोजवान
जुडो तो हरदम उससे जो हर बात से अनजान हो ! उसको गड़ दो येसे जो देश के हित में नाम हो ! हो सकता है वो इंसा कुच्छ पल को बहक गया हो ! हमारी छोटी भूल से उसकी सारी जिंदगी न बर्बाद हो ! उसकी गलती त...
मंदिर-मस्जिद बहुत बनाया, आओ मिलकर देश बनाए हर मज़हब को बहुत सजाया, आओ मिलकर देश सजाएं मंदिर-मस्जिद के झगड़ों ने घायल कर दिए लाखों दिल अपने खुद को बहुत हंसाया, आओ मिलकर देश हसाएँ मालिक, खालिक, दाता है वो,...
  अच्छा तो हम चलते हैं
कल फिर मिलेंगे

7 comments:

पी.सी.गोदियाल September 23, 2010 at 9:44 PM  

उम्दा ब्लॉग चौपाल राजकुमार जी , कुछ चुनिन्दा ही लिंक्स आपने लगाए मगर बहुत अच्छे है !

ताऊ रामपुरिया September 23, 2010 at 11:14 PM  

सुंदर चौपाल, बहुत शुभकामनाएं.

रामराम.

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ September 23, 2010 at 11:24 PM  

इसी बहाने आपने कुछ सार्थक पोस्टों से भी मिलवा दिया, शुक्रिया।

Sadhana Vaid September 24, 2010 at 2:00 AM  

बहुत बढ़िया चौपाल राजकुमार जी ! मेरे ब्लॉग को उसमें आपने स्थान दिया इसके लिये आभारी हूँ ! बहुत बहुत धन्यवाद !

अनामिका की सदायें ...... September 24, 2010 at 8:01 AM  

शुक्रिया इन अच्छे लिंक्स से रु-ब-रु कराने के लिए.

ललित शर्मा September 24, 2010 at 9:27 AM  

वाह वाह वाह
आज हमारी भी चर्चा है।
शु्भकामनाएं और बधाई
बहुत बढिया चौपाल सजाई।

Post a Comment

About This Blog

Blog Archive

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP