Powered by Blogger.

आईये ले चले आपको 151 वीं चौपाल की सैर कराने- ब्लाग चौपाल- राजकुमार ग्वालानी

>> Sunday, November 7, 2010

सभी को नमस्कार करता है आपका राज
 

ब्लाग चौपाल में हमारी 150वीं पोस्ट कल ही पूरी हो गई। हमने इसमें कुछ नया करने की योजना बनाई थी, पर कम्प्यूटर के खराब होने से हमारी योजना फेल हो गई। कम्प्यूटर ठीक तो हो गया है, लेकिन कुछ समस्या अब भी शेष है, ऐसे में हम चौपाल में ज्यादा कुछ नया नहीं कर पाएंगे, इसका हमें खेद है। आग जब दोहरा शतक पूरा होगा तो जरूर कुछ नया किया जाएगा।
(मुंबई में होली स्कूल के बच्चों के साथ नाचते राष्ट्रपति बराक ओबामा)* बराक ओबामा भारत आए हैं तो उन्होंने आम लोगों में उम्मीदें जगा दी हैं। बराक ओबामा की जो चीज सबसे ज्यादा अपील कर रही है वह है उनका औ...
 
विश्व के सबसे ताकतवर और आतंकवादी देश के सामने भी मेरा भारत महान हे बराक ओबामा ने मेरे इस देश का और इस देश के नेताओं और बच्चों का लोहा मान लिया हे ओबामा की भारत यात्रा के दोरान दीपावली का जश्न मनाया जा रहा ...
 
 
कल का दिन हमारे लिए बहुत खराब रहा। सुबह को उठते ही मालूम हुआ कि कम्प्यूटर पाजी का दम निकल गया है। कम्प्यूटर में जान डाली तो मालूम हुआ कि हमारा एक ब्लाग खेलगढ़ शहीद हो गया है। उसको बड़ी मुश्किल से रात को शह...
 
बम्पर स्कीम!! आप एक ईमेल भेजो-दीपावली शुभ और बदले में पाओ २० ईमेल शुभकामना संदेश- साथ में खुले आम ५० लोग फारवर्ड लिस्ट में और फिर उनके शुभकामना संदेश. ऑर्कुट से लेकर चिरकुट तक-हर तरफ दीपावली धमाका. ब...
 
दोस्तों आज की चर्चा कुछ हटकर कर रही हूँ ...........कुछ दोस्त कहते हैं कि कभी कुछ खास चर्चा भी किया कीजिये तो सोचा आज एक ऐसे इंसान से मिलवाया जाए जिसे आप जानते तो हैं मगर कुछ नए लोग जो आये हैं वो शायद नहीं...
 
राज्य के कर्मचारियों की पदोन्नति प्रदान करने में अहम भूमिका निभाने वाली डिपार्टमेंटल प्रमोशन कमेटी (डीपीसी) तकनीकी शिक्षा विभाग के कर्मचारी एमएल पाहवा के लिए डबल पॉलिसी कमेटी बनकर रह गई है। कमेटी ने श्री प...
 
उद्घोष - बीना अवस्थी शक्ति का आह्वान कर अब क्रान्ति को आवाज दे। हिल उठे दिग्गज धरा सब तू छेड़ ऐसा राग दे। रूप नायक के लिखे ग्रन्थ सारे नष्ट कर दे, विरह की वो अश्रुगाथा महाउदधि को भेंट दे दे, ...
 
अब जबकि इन्टरनेट पर आरती संग्रह से लेकर पूजा करने की विधि सब कुछ केवल एक क्लिक की दूरी पर संभव है, भगवान की पूजा और हवन के लिए पंडित जी के नखरे कौन सहे ? यहाँ अमेरिका में मंदिर और पंडितों की कमी न...
 
कई महीनों से रसद एकत्रित की जा रही थी, गोले-बारुद और मन पसंद बंदूक-पिस्टल संभाली जा रही थी। कब युद्ध हो और सारा असला काम आए। वह दिन आ ही गया जिसका इंतजार था। निश्चित समय पर गोली बारी शुरु हो गयी। सहसा धमा..

प्रिय ब्लॉगर मित्रो प्रणाम ! आज भईया दूज है .....अभी अभी लौटा हूँ अपनी बहन से टीका करवा कर | मेरी यह बहन २९ को विदा होने वाली है आजकल घर में बस उसकी शादी की ही तैयारियाँ चल रही है ! भावनाएं भी अपने चरम ...
 
नमस्कार मित्रों! मैं मनोज कुमार एक बार फिर हाज़िर हूं। दीपावली के पटाखों की गूंज से मन थोड़ा शांत हुआ तो चर्चा के लिए कुछ ब्लॉग्स की खोज में निकला। अपने मन को सकून देने के लिए अपना-अपना तरीक़ा होता है। कु...
 
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक हुसैन ओबामा की तीन दिवसीय भारत यात्रा के दूसरे दिन की सुबह एक निजी हिन्दी टेलीविजन समाचार चैनल ने अपने खास और लाइव कार्यक्रम में कुछ ऐसे शीर्षक भी दिए जो हमारे राष्ट्रीय स्वाभिम...
 
कवि गुनगुनाओ आज ऐसा गीत कोई ॥ बहने लगे रवि रश्मि से भी प्रीति की शीतल हवाएं | प्रेम के संगीत स्वर को लगें कंटक गुनगुनाने। द्वेष द्वंद्वों के ह्रदय को, रागिनी के स्वर सुहाएँ। वैर और विद्वेष को भाने लगे प...
 
समीकरण याद नहीं पर जाने कब से सुनती आई हूँ. सुहागिन औरतें रखती हैं निर्जला, करवा चौथ का उपवास, अपने पति की लम्बी आयु के लिए, मैंने भी रखे कितने ही ... केवल तुम्हारे नाम पर. पर आज थोडा असहज महसूस ...
 
चलो ,आज पढाई को गुनते हैं। जब से होश सम्भाला है बस एक ही आवाज सुनाई आती है पढो,पढो और खूब पढों। तब मन होता था पूछे आखिर पढ-लिख कर होगा क्या?यदि कभी पूछा होता तो जबाव मिलता पढोगे लिखोगे बनोगे नबाव ।चलिए ,आ...
 
Yatra Online Pvt Ltd - AirTickets and Hotels 
 
राम जी वनवास के बाद दीवाली वाले दिन ही घर लौटे थे...लेकिन मेरे राम दीवाली वाले दिन ही हमें हमेशा के लिए छोड़ कर चले गए...मेरे पापा का नाम श्री राम अवतार ही था...लेकिन जो आया है, उसे एक दिन जाना ही है...यही...
 
जी हाँ दोस्तों जिस अमेरिका से सारा विश्व डरता हे जिस अमेरिका के खिलाफ बोलने की हिम्मत हमारे देश के नेताओं की नहीं हे जिस अमेरिका के आगे हमारे नेता नतमस्तक हें उसी अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा को मेरे इ...
 
पञ्च दिवसीय दीपोत्सव व लोक संस्कृति
यद्यपि भारतीय हिन्दू संस्कृति के अनुसार प्रत्येक माह की प्रत्येक तिथि अपने आप में एक पर्व है, कार्तिक का महीना सभी दृष्टिकोण से पावन माना जाता है. कृष्ण पक्ष व शुक्ल पक्ष दोनों ही त्योहारों से परिपूर्ण ह...
 
प्रिय बन्‍धु आपके संस्‍कृत जालपृष्‍ठसंग्राहक संस्‍कृतम्-भारतस्‍य जीवनम् पर इस सप्‍ताह प्रकाशित लेखों की सूची प्रस्‍तुत कर रहा हूँ । विषय वस्‍तु की दृष्टि से यह सप्‍ताह महत्‍वपूर्ण है । क्‍यूँकि इस सप्‍...
 
हमारे समाज मे , हिंदू रीति रिवाजो के अनुसार अगर कोई भी काम करना हो तो लड़की के मायके से हमेशा नेग आता हैं । लड़की यानी बहु और बहु की सास भी । ये खर्चा के बहिन के बेटे / बेटी की शादी पर होता हैं । शादी के सम...
 
जब एक महीने से तेज गति से चलते हुए शेयर बाजार को विराम लग रहा था, सेंसेक्‍स और निफ्टी में थोडी सी बढत भी बिकवाली का दबाब पैदा कर रही थी , निवेशकों के समक्ष थोडी आशंका बनी हुई थी, 22 अक्‍तूबर को अपने पोस्‍ट...
 
न सूर्य रचे न चन्द्र रचे रजनी के श्यामल वस्त्रों पर, उल्का के पैबन्द रचे ॥3/4॥ शब्द नहीं न अर्थ सही, अलंकार की कौन कहे रोज रोज के घावों को, कविता में हम खूब सहे ॥1॥ आग जल रही हवन हो रहा, न देव दिखें न लेव 
 
आपका इंतजार कर रहा हूँ ...अभी तक आप नहीं निकले....पापा आपको तो पता है कितनी सारी खरीदारी करनी है..अभी शाम होते हीं दोस्तों का जमावड़ा लग जायेगा ...सभी पटाखे जलाएंगे और मेरे लिए पटाखे का इंतजाम अभी तक नहीं ...
 
मै अपने आप से बेहद खुश फिर किसलिये ढूँढूँ अवलम्बन मुझे मेरा "मै" भटकाता नही उसके सिवा कुछ रास आता नही अब बंधन स्वीकार नही अब ना कोई दीवार रही मै अपने "मै" मे जी लेती हूँ शायद इसीलिये हँस लेती हूँ जब जान लि...
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 अच्छा तो हम चलते हैं
कल फिर मिलेंगे
 
 
 
 
 
 
 
 

7 comments:

शिवम् मिश्रा November 7, 2010 at 10:32 PM  

१५१ वी ब्लॉग चौपाल की बहुत बहुत बधाइयाँ और आगे के लिए आपको बहुत बहुत शुभकामनाएं !

संगीता स्वरुप ( गीत ) November 7, 2010 at 10:35 PM  

बहुत अच्छी चौपाल ..कई नए लिंक्स मिले ..आभार

वन्दना November 7, 2010 at 11:51 PM  

१५१ वी ब्लॉग चौपाल की बधाइयाँ ----------खूबसूरत लिंक्स के साथ सुन्दर चौपाल सजाई है……………आभार्।

राम त्यागी November 9, 2010 at 5:07 PM  

१५१ वी ब्लॉग चौपाल की बधाइयाँ !!

Dr. shyam gupta November 17, 2010 at 8:34 PM  

----सुन्दर चौपाल के लिये बधाई....आभार.

दीपक डुडेजा DEEPAK DUDEJA November 17, 2010 at 9:15 PM  

अच्छी चोपाल जमाई.....
बढिया ...
आभार - कुछ नए लिंक्स के लिए.

Post a Comment

About This Blog

Blog Archive

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP