Powered by Blogger.

गलत हाथों में कैसे अवार्ड जाने देते भाया-इसलिए डोपिंग के दोषी का अवार्ड छिनवाया -ब्लाग चौपाल- राजकुमार ग्वालानी

>> Thursday, August 26, 2010

सभी को नमस्कार करता है आपका राज
हमारे लिए कल का दिन खुशी का रहा क्योंकि हमारी एक मुहिम को सफलता मिली और हमने राज्य के एक पुरस्कार को गलत हाथों में जाने से रोक दिया। अब पुरस्कार सही हाथों में जाएगा। बहरहाल चले देखे आज कौन का ब्लागर क्या कहता है....

*हमारी सक्रियता से सही खिलाड़ी को मिला पुरस्कार * प्रदेश के खेल पुरस्कारों में इस बार शहीद कौशल यादव पुरस्कार डोपिंग के एक दोषी खिलाड़ी सिद्धार्थ मिश्रा को दे दिया गया था। लेकिन हमारी सक्रियता के कारण अंत...
8.1 साठ हजार से दो लाख रूपये तक की वार्षिक आय पर क्रमशः 1 से 15 प्रतिशत का व्यक्तिगत आयकर लिया जायेगा (जैसे- साठ हजार पर 1 प्रतिशत, सत्तर हजार पर 2 प्रतिशत, अस्सी हजार पर 3 प्रतिशत....... इसी...
शादी के लिये कुछ दोस्त फ़ार्मेलिटी के लिये कभी-कभार फ़ोर्स करते है मगर कुछ दोस्त हमेशा ही शादी करने की बजाय मुझे खुशनसीब होने की गलतफ़हमी बनाये रखने मे मदद करते आये हैं।ऐसे ही एक दोस्त ने मुझे एसएमएस के जरिय...
 
कॉमस्कोर इंक का सर्वे : अब जीमेल से फोन* * डायचे वेले जर्मनी की रिपोर्ट * डायचे वेले जर्मनी ने एक सर्वे के आधार पर जानकारी दी है कि अब भारत में भी फेसबुक नंबर व...
विश्वस्त सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार आज दोपहर में बिलासपुर जिला स्तर पर इलेक्ट्रानिक मीडिया के सभी सदस्यों ने मिलकर संघठन को अमली जामा पहनाने के उद्देश्य से बिलासपुर स्थित छत्तीसगढ़ भवन में एक मीट...
ठाकुर गंगा सिंह दांता के ज्येष्ठ पुत्र केशरी सिंह के निसंतान निधन हो जाने के बाद ठाकुर गंगासिंहजी की मृत्यु के बाद उनके द्वतीय पुत्र मदनसिंह जी दांता ठिकाने की गद्दी के स्वामी बने | मदन सिंह जी का जन्म चेत...
ऐसे ही सरे राह चलते कुछ पंक्तियाँ मन में आगईं तो उन्हें मन में दबाया ना गया.. हिन्दुस्तान के गरीबों का सा हस्र ना किया गया उनका मुझसे.. लेकिन आखिरी पंक्तियाँ समझ नहीं आयीं कि कौन सी बेहतर रहेंगीं इसलिए जो ...
छवि गूगल से साभार , कार्टून को बड़े आकर में देखने के लिए कृपया उस पर क्लिक करे ! 
जैसा देश वैसा भेष यह कहावत तो आपने जरुर सुनी होगी पर एक बात की और गाठं बांध लें, जहां भी रहते हैं वहां की भाषा जरूर सीख लें और कोशिश करें कि स्थानीय लोगों से उनकी ही भाषा में बात कर सकें। पता नहीं आप की कि...
महेन्द्र मिश्र कहते हैं- इंसान मन से दरिद्र होता है ...
कहा जाता है की *दरिद्र इंसान का मन बहुत छोटा* होता है और उसकी वृत्तियाँ और सोचने की क्षमता बहुत ही छोटी होती है . हम धनहीन को दरिद्र नहीं कह सकते है वरन भावहीन जरुर दरिद्र होते हैं . एक व्यापारी एक महानगर ...
जानने की उत्‍कंठा जाग गई है तो आज चार बजे मेरी चौखट पर आपका स्‍वागत है। चौखट पर आइये और जानिये कि कौन हैं हिन्‍दी ब्‍लॉगिंग के बाबा रामदेव। तब तक आप कयास लगा सकते हैं। इन कयासों को टिप्‍पणी के तौर पर नीचे...
भाई बहन का प्यार संसार की अमूल्य निधि है ।इस निधि का प्रतिदान सम्भव नहीं ।उस अनुभूत प्रेम के लिए शब्द ढूँढ़े नहीं मिलते । डॉ भावना कुँअर ने अपने भाव इस प्रकार व्यक्त किए*** *सुलझा देता** * *उल...
इन दिनों पूरे देश में यह बहस चल रही है कि सांसदों के वेतन भत्ते बढऩा चाहिए या नहीं बढऩा चाहिए। हमने आम आदमियों के बीच यह सवाल उठाया तो अब तक हमें एक भी व्यक्ति नहीं मिला जिन्होंने सांसदों के वेतन भत्तों में ...
मैं देखती हूँ कि अक्‍सर लोग शहर से बाहर जाने पर या काम की व्‍यस्‍तता के कारण ब्‍लाग पर सूचना देते हैं कि हम इतने दिनों के लिए बाहर हैं या फिर व्‍यस्‍त हैं। ब्‍लागिंग के प्रारम्भिक दिनों में मुझे समझ नहीं आ...
स्वतंत्रता दिवस की ही भांति रक्षा-बंधन के अवसर पर भी मैंने *‘ऑरकुट ’* एवं * ‘फेसबुक’* के अपने साथियों को शुभकामनाएं दी। हालांकि रक्षा-बंधन के अवसर पर मंगल-कामना करते हुए मेरे मन में एक संकोच बना हुआ था। मु...
 अच्छा तो हम चलते हैं
कल फिर मिलेंगे

8 comments:

ललित शर्मा-للت شرما August 26, 2010 at 7:18 PM  

राजकुमार भाई, बहुत बढिया चर्चा है।
दिनों दिन निखर रही है-आभार

Udan Tashtari August 26, 2010 at 8:00 PM  

बहुत बढ़िया चर्चा.

rajesh patel August 26, 2010 at 8:38 PM  

बहुत बढ़िया

संगीता पुरी August 26, 2010 at 8:48 PM  

बढिया चौपाल सजाया है .. इतने लिंक देने के लिए आपका आभार !!

neha August 26, 2010 at 9:12 PM  

बढिया चौपाल

महेन्द्र मिश्र August 27, 2010 at 9:36 PM  

बहुत बढ़िया चर्चा,,,

Post a Comment

About This Blog

Blog Archive

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP