Powered by Blogger.

तुम्हारी चैट, ये हल्दी लगा खत मेरा मुंह स्याह कर गया होता ...?-ब्लाग चौपाल- राजकुमार ग्वालानी

>> Sunday, August 29, 2010

बिजली की आंख-मिचौली चल रही है, इसलिए सीधे चौपाल सजाते हैं....
सभी को नमस्कार करता है आपका राज
जी करता है तुम्हारी चैट का प्रिंट आउट निकाल कर सिरहाने रख लूँ, और पुराने खतों की तरह पढ़ूँ रोज सोते समय 
साँझ भयी फिर जल गयी बाती !* करण समस्तीपुरी *बहुराष्ट्रीय कंपनी के वातानुकूलित कार्यालयों में ऋतुओं की आर्द्र-उष्णता की अनुभूति कहाँ ? महानगरीय चकाचौंध बिजली की रंगोलियाँ सजती हैं.... लेकिन पल भर को...
ग्रीन पुलिस रोकेगी प्रदूषण* भारत सरकार प्रदूषण पर नियंत्रण लगाने के लिए ग्रीन पुलिस बनाने जा रही है. इसका काम प्रदूषण को मापना और पानी में खतरनाक रासायनिकों को बहाए जाने से रोकना है. औद्योगिक विकास ...
9.1 देश के नागरिकों को तीन आयवर्गों में बाँटा जायेगा:- क) निम्न आयवर्ग- साठ हजार रूपये से कम वार्षिक आय/छ्ह एकड़ से कम कृषि भूमि (मैदानी भाग के हिसाब से) ख) मध्यम आय वर्ग- साठ हजार से...
ऐसी एक जवानी लिखना * *हर आँखों में पानी लिखना * *दुहराती हैं जिसको सदियाँ * *ऐसी कोई कहानी लिखना* *इंसां बन कर ही रहना है * *खुद को तू मत ज्ञानी लिखना* *देख ज़ुल्म को चीख जरा तू* *या जीवन बेमानी लिखन...
अपने दिल की उदासी को छुपा लूँ तो कुछ और कहूँ अपने लफ़्ज़ों से जज्बातों को बहला लूँ तो कुछ और कहूँ. अपनी साँसों से कुछ बेचैनियों को हटा लूँ तो कुछ और कहूँ धूप तीखी है, जिंदगी को छाँव की ...
अली कहते हैं- ये हल्दी लगा खत मेरा मुंह स्याह कर गया होता ...?
पता नहीं क्यों आज सुबह से एक खब्त सी तारी थी ! सो पुरानी फाइलें पलटते हुए चंद खत हाथों में अटक गये , बारी बारी से सबको पढते हुए पुराने दिन जेहन की पर्त दर पर्त जमा धूल से बाहर नमूदार होने लगे ! यही कोई प...
संगीता पुरी बता रही हैं- सबकी उम्र जानने के लिए हम आज एक मजेदार ट्रिक लेकर आए हैं !!
वैसे तो उम्र छुपाने के मामलों में सिर्फ महिलाएं ही बदनाम हैं , पर आजकल कई दफे पुरूषों को भी उम्र छुपाते देखा गया है। भले ही किसी मुसीबत में आते ही या अन्‍य ज्‍योतिषीय जिज्ञासा से हम ज्‍योतिषियों के सामने ल...
पूकलम (रंगोली) पिछले कुछ वर्षों से पूरे केरल की तरह हमें भी 'ओणम ' का उसी उत्साह से इंतज़ार रहता है क्यूंकि उस दिन मेरी सहेली 'राजी मेनन ' ओणासद्य' (ओणम का भोज) के लिए हमें, अपने घर बुलाती है. उसके घर के बा...
प्रिय मित्रों जैसा कि मैने आप सब से वादा किया था संस्‍कृत में लिखने का प्रशिक्षण प्रारम्‍भ करने का तो आपके समक्ष प्रस्‍तुत कर रहा हूँ इस कक्ष्‍या का प्रथम संस्‍करण । इस पाठ्यक्रम को पूरी मेहनत से और इ...
नक्सलवाद से बुरी तरह ग्रस्त छत्तीसगढ विकास की दौड़ मे नये-नये रिकार्ड स्थापित कर रहा है।ये हम नही,छत्तीसगढ सरकार नही बल्कि केन्द्र सरकार का सांख्यिकी विभाग कह रहा है।विकास की दौड़ मे उसने गुजरात और महाराष्ट्...
सतनाम धर्मसेना ने इस साल रावण नहीं जलाने का आह्वान करते हुए पर्चे बांटना शुरु किया है और इसके विरोध में कवर्धा के धर्मसेना खड़ी हो गई है। सतनाम धर्म सभा के अध्यक्ष केवल प्रकाश सतनामी के द्वारा वितरित पर्चे ...
रचना दीक्षित का- सूरजमुखी
सूरजमुखी बन के सूरजमुखी, तकती रही ताउम्र जिसे, वो मेरा सूरज नहीं किसी और का चाँद निकला. जब भी देखी तितलियाँ रंग बिरंगी उसने, दिल धड़का, उछला, मचला सौ बार निकला. मुझ पर न पड़ी मुहब्बत भरी नज़र उ...
 अच्छा तो हम चलते हैं
कल फिर मिलेंगे

7 comments:

संगीता स्वरुप ( गीत ) August 29, 2010 at 8:56 PM  

अच्छे लिंक्स से सजी चौपाल

संगीता पुरी August 29, 2010 at 10:13 PM  

सुंदर लिंक्‍सों से सजी चौपाल के लिए आपका आभार !!

वन्दना August 29, 2010 at 11:11 PM  

बहुत बढिया चौपाल्।

ललित शर्मा-ਲਲਿਤ ਸ਼ਰਮਾ August 30, 2010 at 7:01 PM  


वाह-वाह,बहुत बढिया चर्चा के लिए आभार
ढेर सारी शुभकामनाएं।

खोली नम्बर 36......!

Shah Nawaz August 30, 2010 at 8:27 PM  

बेहतरीन ब्लॉग चौपाल!

Post a Comment

About This Blog

Blog Archive

  © Blogger template Webnolia by Ourblogtemplates.com 2009

Back to TOP